मंगलवार, 30 नवंबर 2010

आज की कुछ खासमखास बकबक ....अरे नहीं बकर बकर कहिए


हमारा आज का फ़ेसबुक स्टेटस :-



DDA के फ़्लैट्स के लिए आवेदन पत्र की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है ...सुना है कि इस बार का सिलेबस बहुत अलग कर दिया है ..पच्चीस पेज के उस बुकलेट को समझने के लिए ..हमने पच्चीस दिन का क्रैश कोर्स ट्यूसन ..शुरू किया है ..on.first come bais....जल्दी करें ..

________________________________________________________________________



आज के विचार कुछ ये हैं जो दिमाग में आए हैं कि अब तक जो थोडा बहुत बिग बॉस झेला है ..या कहिए कि जबरन ही घरवालों द्वारा खाना खाते समय झिलवाया गया है ..उसके हिसाब से ..वहां रह रहे तमाम प्रतियोगियों में हमें तो ...एक ही प्रतियोगी दिखा जो ..शिक्षित , संस्कारी , सहनशील , सहिष्णु ..या कुल मिला कर ..एक अच्छा इंसान दिखा ......वो हैं सीमा परिहार ..पता चला कि वे डाकू थीं ...लो उनको छोड कर अन्य सभी में हमें थोडा बहुत डाकूपन दिखाई दिया ...


______________________________________________________________________________

अब आज की पढाई लिखाई :-

मा स्साब अपने एक स्टूडेंट से , तुम बडे होकर क्या बनोगे ....

स्टूडेंट :-सर , MBBS करने के बाद मैं पुलिस ज्वाइन करनी सोच रहा हूं , और एक software company में एक अच्छी सी जॉब भी करूंगा एक legal advisor के रूप में , ब्ल्डिंगें बनाऊंगा और रिसर्च करते हुए एक्टर बनने का प्रयास करूंगा ..


मा स्साब ...तेरा नाम क्या है बे ....

स्टूडेंट .....रजनीकांत ...



चलिए अब इतना ही ..अब बकबक ही करेंगे तो लिखेंगे पढेंगे कब जी ..आयं

1 टिप्पणी:

  1. डीडीए वालो ने पिछली बार तो शेखावाटी वालो को फ़्लैट मालिक बना दिया था | अब कि बार किसे बना रहे है |

    उत्तर देंहटाएं